Health Fitness & Wellbeing

Friday, May 4, 2018

ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के घरेलू तरीके

मेरे प्रिय दोस्तों और मित्रों! आप सभी का मैं एक बार फिर से स्वागत, अभिनन्दन और नमस्कार करता हूँ आपके अपने सेहत भरे ब्लॉग पर जिसका नाम है "सेहतमंद स्वास्थय के फिटनेस टिप्स" दोस्तों सबसे पहले आप सभी से ब्लॉग पर नयी पोस्ट देर से देने के लिए क्षमा चाहता हूँ उम्मीद करता हूँ की आप सभी का प्यार और अपनापन इस ब्लॉग को हमेशा मिलता रहेगा और जल्दी ही वह समय आएगा जब मैं आप सभी को बिना किसी देरी और व्यवधान के नयी, रोचक और उपयोगी सेहत भरी स्वास्थ्य की टिप्स देता रहूँगा।




दोस्तों आज की इस ब्लॉग पोस्ट मैं हम आज एक बहुत ही खास विषय के बारे चर्चा करेंगे जिसको हम और आप सभी ब्लड प्रेशर के नाम से जानते है और यही हमारी आज की पोस्ट का विषय है की हम किस प्रकार से अपने ब्लड प्रेशर को बिना किसी दवाइयों के सहारे नार्मल रख सकते है




जैसा की हम सभी जानते है की हाई ब्लड प्रेशर को साइलेंट किलर माना जाता है और यह बगैर कोई सिम्पटम्स दिखाए धीरे-धीरे आपको अंदर से कई गंभीर बीमारियों का शिकार बनाता जाता है। अगर आप हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने की दवा ले लेकर थक चुके हैं और कोई दूसरा अल्टरनेटिव तलाश रहे हैं, तो आज हमारी पोस्ट मैं बताये गए ये स्मार्ट तरीके आपके लिए काफी काम के साबित हो सकते हैं। आज कल की लाइफस्टाइल के कारण लोगों में ब्लड प्रेशर की समस्या ज्यादा देखने को मिलती है। बड़े-बूढ़ों में ही नहीं बल्कि आज कल के युवाओं को भी इस समस्या से रूबरू होना पड़ रहा है। ऐसे में आपको इस बारे में विचार करने की जरूरत है। अगर आप इसके लिए गंभीर नहीं होंगे तो आपको आगे चलकर किसी बड़ी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।




ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के घरेलू तरीके


हाई ब्लड प्रेशर जिसे हम हाइपरटेंशन के नाम से भी जानते हैं, इस दौर की सबसे खतरनाक बीमारियों में से एक है। आजकल के खराब खानपान और लाइफस्टाइल से जुड़ी गलतियों के कारण किसी भी उम्र के लोग इसके मरीज होते जा रहे हैं। यह बीमारी शरीर में ब्लड प्रेशर के बढ़ने के कारण होती है मतलब इस दौरान शरीर में खून का प्रवाह और दवाब दोनों काफी बढ़ जाता है। जिस वजह से कार्डियक अरेस्ट, किडनी फेल होना या हार्ट अटैक, स्ट्रोक जैसी गंभीर ससस्याएं हो सकती हैं।








कई बार आनुवांशिक कारणों की वजह से भी यह बीमारी होने लगती है वैसे अधिकतर मामलों में खराब खानपान और सुस्त जीवनशैली की वजह से भी यह समस्या हो जाती है। हेल्दी डाइट और सही इलाज की मदद से आप काफी हद तक इस बीमारी को कंट्रोल कर सकते हैं। आज की इस पोस्ट में हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बता रहे हैं जिनके सेवन से ब्लड प्रेशर को नियंत्रित किया जा सकता है।



आईये तो शुरू करते है आज की हमारी पोस्ट जिसका शीर्षक है- ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के घरेलू तरीके!





केला:-





बहुत कम लोग यह जानते हैं कि केले के सेवन से भी ब्लड प्रेशर को नियंत्रित किया जा सकता है। इसमें मौजूद पोटैशियम की अधिक मात्रा हाइपरटेंशन के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद है। पोटेशियम से भरपूर यह फल हमारे शरीर में मौजूद सोडियम से लड़ने में मदद करता है,  साथ ही यह किडनी को भी मजबूत बनाता है। आयुर्वेद में यह बताया गया है कि केले का नियमित सेवन आपको हाई ब्लड प्रेशर से होने वाली समस्याओं से बचाए रखता है। केले में हाइपरटेंसिव गुण होते हैं जो ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है। दोस्तों अगर आप भी अपने को हाइपरटेंशन की समस्या से बचाना चाहते हैं तो रोजाना एक या दो केला खाना शुरू कर दें।




काली मिर्च:-

जिनका ब्लड प्रेशर ऊपर-नीचे होता रहता है उनके लिए काली मिर्च फायदेमंद होती है। इसकी वजह है इसमें मौजूद वैसोडिलेटर जो छोटी रक्तवाहिकाओं को बड़ा करने वाली औषधि का काम करती है| इसे खाने से शरीर में रक्त का प्रवाह अच्छे से होता है। यह प्लेटलेट्स को आपस में मिलने से भी रोकती है, जिससे ब्लड फ्लो बेहतर बना रहता है |






शहद:-

इसमें मौजूद ऑलिगोसैचुराइड नामक कार्बोहाइ़ेट ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करते हैं। इसी के साथ शहद में भरपूर मात्रा में पाए जाने वाले अमिनो एसिड्स और बाकि न्यूट्रिएंट्स भी पाए जाते है जो किसी भी व्यक्ति के बढ़ते ब्लड प्रेशर को आसानी से कंट्रोल कर सकते है।






लहसुन:-

पुराने कई अध्ययनों से यह पता चला है कि लहसुन हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है। इसमें मौजूद एलिसिन नामक तत्व रक्त कोशिकाओं में निट्रिक ऑक्साइड और हाइड्रोजन सल्फाइड को रोक ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मदद करते हैं। इसे नियमित तौर पर खाने से ब्लड फ्लो बेहतर बना रहता है, जिससे दिल की सेहत भी अच्छी बनी रहती है। रोजाना डाइट में लहसुन को शामिल करने से शरीर में नाइट्रिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है जो रक्त धमनियों को चौड़ा करने में मदद करती है जिससे ब्लड प्रेशर अपने आप कम हो जाता है। अतः आप चाहे तो कच्चा लहसुन खा सकते हैं या सलाद में लहसुन डालकर खाएं। इसमें मौजूद एलीसिन नामक यौगिक में एंटी बैक्टीरियल, एंटीऑक्सीडेंट और एंटी हाइपरटेंशन गुण होते हैं जिस वजह से ये ब्लड फ्लो को आसान बना देता है और ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखता है। हाइपरटेंशन से बचने के लिए लहसुन का इस्तेमाल करना शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद है 

हरी सब्जियाँ:-

पालक और केल जैसी हरी सब्जियों में कैलोरी की मात्रा कम होती है, साथ ही इसमें फाइबर, पोटैशियम, फोलेट और मैग्नीशियम की मात्रा काफी ज्यादा होती है। ये सारी चीज ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करती हैं। अगर आप को अपने ब्लड प्रेशर को नार्मल रखना चाहते तो आपको रोजाना हरी सब्जियों का सेवन करना करना चाहिए।




डेरी प्रोडक्ट्स:-

आयुर्वेद के अनुसार रोजाना चीज, पनीर, बटर और दूध जैसे डेरी आइटम का सेवन शरीर के ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में बहुत मदद करता है। खासतौर पर दूध में मौजूद कैल्शियम, पोटैशियम और मैग्नीशियम आपके ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखते हैं जिससे हाइपरटेंशन की संभावना कम हो जाती है। डेरी प्रोडक्ट्स जिसमें फैट की मात्रा काफी कम होती है वे ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में अहम भूमिका निभाते हैं। इसके अलावा इसमें कैल्शियम की मात्रा भी काफी ज्यादा होती है, इसलिए ब्लड प्रेशर को नियंत्रण में रखने के लिए लो फैट मिल्क और योगर्ट का सेवन ज़रूर करें।


साबुत अनाज:-
अनाजों में फाइबर और पोषक तत्वों की मात्रा काफी ज्यादा होती है और अधिकतर साबुत अनाजों के सेवन से ट्राईग्लेसराइड का लेवल कम होने लगता है जिससे ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है, इसलिए डाइट में अधिक से अधिक साबुत अनाजों को शामिल करें।



नट्स:-

यह हम सभी जानते हैं कि नट्स में फाइबर, मैग्नीशियम, पोटैशियम और हेल्दी फैट की मात्रा काफी ज्यादा होती है। इनके सेवन से शरीर में बेहतर तरीके से ब्लड फ्लो होने लगता है जिस वजह से ब्लड प्रेशर कंट्रोल होता है।




मैथी दाना:-

इन दानों में सोडियम की मात्रा बहुत ही कम होती है जिससे ब्लड प्रेशर को नार्मल बनाए रखने में मदद मिलती है, क्योंकि इसमें भारी मात्रा में मौजूद पोटेशियम और डाइटरी फाइबर ब्लड प्रेशर हाई होने से रोकते हैं




अंगूर:-

अंगूर में मौजूद पोटैशियम ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में बहुत मददगार है। इसके अलावा इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट शरीर में मौजूद खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को काफी कम कर देते हैं, इसलिए हाइपरटेंशन के मरीजों को डॉक्टर रोजाना अंगूर खाने की सलाह देते हैं।




सोयाबीन:-

एक अध्ययन के मुताबिक सोयाबीन को अपने आहार में नियमित रूप से शामिल करने से भी रक्तचाप को कम करने में मदद मिलती है। 18 से 30 वर्ष की आयु के लोगों पर किए अध्ययन के अनुसार प्रतिदिन सोयाबीन, पनीर, मूंगफली और ग्रीन टी को अपने भोजन में शामिल करने वाले लोगों के रक्तचाप में कमी दर्ज की गई।

शकरकंद:-

शकरकंद जिसे अंग्रेजी में स्वीट पोटैटो कहा जाता है में बीटा कैरोटीन, कैल्शियम और घुलनशील रेशे होते हैं। जो स्ट्रेस को कम करते हैं, इसलिये प्रतिदिन अपने आहार में करीब 1 से 2 स्लाइस शकरकंद जरुर शामिल करें। 







दोस्तों तो यह थी हमारी आज की पोस्ट के बारे में विस्तार से चर्चा। आशा करता हूँ की आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आएगी तो फिर जल्दी से हमें अपने प्यारे प्यारे कमैंट्स हमेशा की तरह कमेंट बॉक्स में या फिर हमारी ईमेल एड्रेस पर भेज देवे। साथ ही इस पोस्ट को वीडियो के माध्यम से देखने के लिए नीचे दिए गए वीडियो को लिंक को क्लिक करे और शेयर करे। आज के लिए बस इतना ही अगली बार एक नए विषय को लेकर फिर आपके समुख मैं फिर से हाज़िर होंगे तब तक के लिए नमस्कार, जय हिन्द!